Holi 2020: होली पर केमिकल वाले घातक रंगों से यूं बचें

होली पर्व सभी के चेहरों पर रंगों के साथ मुस्कान ला देता है, लेकिन कई लोग इस चिंता में भी नजर आते हैं कि इस बार होली में किसी ने ज्यादा केमिकल वाला रंग लगा दिया। इसे छुड़ाने में काफी मशक्कत करनी पड़ेगी और यदि किसी ने पक्के रंग लगा दिए तो त्वचा के साथ-साथ आंख में रंग जाने और बाल भी खराब होने का डर रहेगा। कई बार तो रंग मुंह में भी चले जाते हैं, जिसके कारण साइड इफेक्ट्स कई रूप में भुगतने पड़ते हैं। होली खेलने का प्लान बना रहे हैं तो दोस्तों के बीच जाने से पहले ये तैयारियां जरूर पूरी कर लें –

त्वचा पर जरूर करें सरसों तेल की मालिश

www.myupchar.com से जुड़ी डॉ. अप्रतीम गोयल के अनुसार, ‘बाजार में मिलने वाले रंगों में कई ऐसे केमिकल्स होते हैं जो आपके स्वास्थ्य के लिए बेहद हानिकारण होते हैं।’ इनसे बचने के लिए चेहरे और बालों पर सरसों का तेल लगा लें। इससे रंग छुड़ाने में मेहनत नहीं लगेगी। यदि किसी की त्वचा ज्यादा संवेदनशील है तो मॉइस्चराइजर लगा सकता है। शरीर की जितनी भी खुली जगह है, उन पर मॉइस्चराइजर लगाने से रंगों का प्रभाव कम होगा। इसके अलावा नारियल तेल भी लगाया जा सकता है।

दही लगाने से जल्द दूर होता है रंग

होली के दिन यदि ज्यादा ही रंग लगा दिया है तो उसे ज्यादा रगड़कर निकालने के बजाय दही से हलके हाथ से मालिश करके निकालने का प्रयास करें। इससे रंग भी निकल जाएगा और त्वचा छिलने का भी डर नहीं रहता है। कई बार ज्यादा साबुन लगाने या स्क्रब करने से त्वचा में जलन होने लगती है और लाल पड़ जाती है।

बालों को घातक रंगों से ऐसे बचाएं

www.myupchar.com से जुड़ी डॉ. अप्रतीम गोयल के अनुसार, ‘रंग निकालने के लिए सबसे पहले बालों को धोएं। शैम्पू या कंडिशनर का उपयोग किया जा सकता है।बालों से रंग छुड़ाने के लिए लोग किसी भी तरह के साबुन का इस्तेमाल करते हैं, जो बालों के लिए काफी नुकसानदायक होता है। बालों में शैंपू का उपयोग करने के बाद कंडीशनर का उपयोग अवश्य करें। इससे बाल स्वस्थ रहते हैं। इसके अलावा हेयर सिरम का भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

आंखों के प्रति विशेष सावधान रहें

आजकल बाजार में जो रंग मिलते हैं, उनमें कुछ ऐसे केमिकल भी होते हैं जो आंखों का काफी नुकसान पहुंचा सकते हैं। कई बार आंखें लाल हो जाती हैं और सूजन भी आ जाती है। इसलिए होली के दिन विशेष तौर पर आंखों को पूरी तरह से ढकने वाला चश्मा जरूर पहनें, क्योंकि कई बार बच्चे छत से पानी के गुब्बारे भी फेंक देते हैं, जिससे आंखें चोटिल हो जाती है। आंखों में गुलाब जल या अन्य एंटी बायोटिक ड्रॉप भी जरूर डालें।

घर पर तैयार करें हर्बल कलर

होली पर जहां आप खुद अपनी सेहत के प्रति सावधान रहें, वहीं अपने दोस्तों के लिए भी हर्बल कलर का ही इस्तेमाल करें। वैसे बाजार में इन दिनों हर्बल कलर भी मिलने लगे हैं, लेकिन इसे घर पर भी आसानी से तैयार किया जा सकता है। पलाश के फूल से बने रंगों से बीते जमाने में होली खेली जाती थी। सबसे पहले तो प्रयास करें कि रंगीन फूलों से घर पर ही कलर तैयार करें। अलग-अलग रंग के लिए अलग-अलग फूल का इस्तेमाल करके होली के रंग तैयार किए जा सकते हैं।

यह स्वास्थ्य आलेख www.myUpchar.com द्वारा लिखा गया है.

Tags:- rules of holi, important safety measures that can be taken to make holi a safe festival, holi is safe to celebrate essay, essay on safe holi, safe holi message, is holi safe, happy safe holi, safe holi poster

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *